सारण के किसानों को इफको द्वारा निर्मित नैनो यूरिया 500 एमएल का बोतल जल्द ही होगा उपलब्ध : डॉ. सुनील

सारण के किसानों को इफको द्वारा निर्मित नैनो यूरिया 500 एमएल का बोतल जल्द ही होगा उपलब्ध : डॉ. सुनील

सारण के किसानों को इफको द्वारा निर्मित नैनो यूरिया 500 एमएल का बोतल जल्द ही सारण के किसानों को उपलब्ध होगा, नैनो टेक्नोलॉजी पर आधारित नैनो यूरिया किसानों के लिए रामवाण व पर्यावरण के अनुकूल होगा।
उक्त बातें विधान परिषद सदस्य सह बिस्कोमान के अध्यक्ष डॉ सुनील कुमार सिंह ने सोमवार को स्थानीय नक्षत्र होटल के सभागार में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही। इससे पूर्व बिस्कोमान के चेयरमैन डॉ सुनील कुमार सिह ने सारण के जिलाधिकारी डॉ. निलेश रामचंद्र देवरे से मिलकर नैनो टेक्नोलॉजी पर आधारित इफको नैनो यूरिया पर चर्चा करते हुए किसानों के हित में इसे बेहतर बताया। प्रेस मीडिया को संबोधित करते हुए बिस्कोमान के चेयरमैन डॉ. सुनील कुमार सिंह ने कहा कि विधान परिषद में मैने यूरिया कमी का मामला उठाया था। इसके बाद सरकार हड़कत में आई और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसे गंभीरता से लेते हुए एक मुहिम की शुरुआत की। हालांकि अभी यूरिया की किल्लत नहीं है, लेकिन जल्द ही यूरिया की भारी कमी होगी क्योंकि फहले भंडारण नही है। चेयरमैन डॉ. सुनील ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह भी कहा कि सारण मे बिस्कोमान का अधिकृत कृषक केंद्र है जिसमे बनियापुर छपरा दिघवारा परसा एकमा सोनपुर मढ़ौरा एवं गरखा शामिल है। सरकार द्वारा अधिकृत यूरिया का प्रति बैग 265 रूपये निर्धारित है। बिस्कोमान के चेयरमैन ने सभी किसानों से सरकार द्वारा निर्धारित दर पर ही खरीदारी करने की अपील करते हुए कहा कि किसान बिना पौश मशीन के खरीदारी नही करे। उन्होंने कहा कि इफको द्वारा निर्मित नैनो टेक्नोलॉजी पर आधारित नैनो यूरिया तरल की सौगात जल्द ही सारण वासियों को मिलेगा। 500 एमएल का बोतल एक बैग यूरिया के सामान काम करेगा, पानी में मिलाकर किसानों को स्प्रे करना होगा। नैनो टेक्नोलॉजी यूरिया मिट्टी के लिए रामबान जलवायु सहित इसके कई फायदे होगें। यह एक अनूठा उर्वरक है जो विश्व मे पहली बार विकसित किया गया है जो भारत सरकार से अनुमोदित है। इससे कृषि के क्षेत्र मे नया अधयाय की शुरूआत होगा। इस अवसर पर रितेश सिह, कृष्ण मोहन सिंह व गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!