छपरा के सरकारी स्कूल में छेड़खानी से परेशान लड़कियों ने छोड़ा स्कूल जाना , प्रधानाचार्य ने BDO, Police को मौखिक सूचना दी ,लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुई है, मनचलों से स्कूल के शिक्षक भी भयभीत

छपरा के सरकारी स्कूल में छेड़खानी से परेशान लड़कियों ने छोड़ा स्कूल जाना , प्रधानाचार्य ने BDO, Police को मौखिक सूचना दी ,लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुई है, मनचलों से स्कूल के शिक्षक भी भयभीत

 

मशरक में सरकारी विद्यालय में मनचलों से परेशान छात्रा,शिक्षक हलकान

 

 

मशरक के श्री अवध उच्च विद्यालय चैनपुर और मिडिल स्कूल से जुड़ी छात्राओं को मनचलों की फब्तियों का शिकार प्रतिदिन होना पड़ रहा है । विद्यालय आने जाने वाली लड़कियों पर कुछ मनचले लगातार छात्राओं को परेशान कर रहे हैं।इस वजह से कई छात्राओं ने तो स्कूल जाना भी बंद कर दिया है,मनचलों का मनोबल इतना बढ़ा है कि विद्यालय के मुख्य गेट से लेकर कक्षा तक मे प्रवेश कर छात्राओं को परेशान कर रहे है और गंदी और अभद्र भाषा का प्रयोग कर फब्तियां कस रहे है,जिससे छात्राओं में किसी अनजानी घटना होने का खौफ बैठ गया है जिससे कई ने विद्यालय जाना छोड़ दिया है
इस मामले को लेकर स्कूल के प्रधानाचार्य महेश प्रसाद चौरसिया ने बीडीओ मशरक के अलावे मशरक पुलिस को मौखिक सूचना दी प्रबुद्ध ग्रामीणों से साथ मनचलों और असामाजिक तत्वों पर नकेल कसने के लिए एक बैठक भी बुलाई लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुई है । मनचलों से स्कूल के शिक्षक भी भयभीत रहते है । विद्यालय में छात्राओं की कुल संख्या लगभग दो सौ से ऊपर है। जानकारी के अनुसार मुख्यालय के अन्य स्कूलो में भी गेट पर स्कूल खुलने , टिफिन एवं छुट्टी के समय मनचलों का जमावड़ा रहता है। जिससे छात्रा परेशान रहती है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!