ये कैसा समाज :बीमार विधवा के निधन के बाद अंत्येष्टि को तैयार नहीं हुआ परिवार, 10 साल की बेटी ने दी मुखाग्नि ,बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने कराई अंतिम क्रिया

ये कैसा समाज :बीमार विधवा के निधन के बाद अंत्येष्टि को तैयार नहीं हुआ परिवार, 10 साल की बेटी ने दी मुखाग्नि
बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने कराई अंतिम क्रिया,

हिसुआ. बेबस और असहाय होने के बाद किस तरह सगे संबंधी और समाज के लोग अपने कर्तव्य को भी छोड़ देते हैं इसका उदाहरण हिसुआ में देखने को मिला। जहां एक विधवा का निधन होने के बाद अंतिम संस्कार के लिए न तो उसके सगे संबंधी सामने आए और न ही गोतिया समाज के लोग। अंत में सामाजिक संगठन बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने महिला का अंतिम संस्कार किया। इस दौरान 10 वर्षीय पुत्री ने जब विधवा को मुखाग्नि दी तो लोगों का कलेजा दहल उठा।
मामला हिसुआ शहर के वार्ड नंबर 17 का है जहां काफी दिनों से बीमार चल रही एक असहाय विधवा की मौत हो गई। इसके बाद उसके अंतिम संस्कार के लिए काफी देर तक परिजनों और सगे संबंधियों का इंतजार होता रहा। बाट जोहते जोहते घंटों बीत गए लेकिन न तो परिवार और न हीं समाज के लोग आगे आए। अंततः बजरंग दल ने ही विधवा के अंतिम संस्कार का बीडा उठाया। कार्यकर्ताओं ने प्रशासन को इसकी सूचना दी और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए बुधवार को महिला का दाह संस्कार किया।
ढ़ाई माह से बीमार चल रही थी महिला
जानकारी के अनुसार नगर के वार्ड नंबर 17 निवासी स्व. अरविंद माहुरी की विधवा रेखा  भदानी अपने पति के मौत के बाद अपनी एक मात्र 10 वर्षीय पुत्री के साथ हिसुआ में रह रही थी। करीब ढ़ाई माह से वह बिमार चल रही थी। माली हालत काफी खराब रहने के कारण उसका उचित इलाज नहीं हो पाया। 3 दिन पूर्व राहत समाग्री वितरण के दौरान महिला की स्थिति को देखकर बजरंग दल संयोजक मनीष राठौर ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया था। इलाज के दौरान महिला के टाइफाइड और टीवी से पीड़ित होने की बात सामने आई थी। अभी जांच होनी थी लेकिन मंगलवार को उसकी तबीयत बिगड़ गई और नवादा ले जाने के दौरान मौत हो गई।
बच्ची का भरण-पोषण करेगा बजरंग दल
विधवा की मौत के बाद उसकी 10 वर्षीया बच्ची पूरी तरह अनाथ हो गई है। बजरंग दल ने उसे गोद लेने की बात करते हुए उसकी पूरी जिम्मेदारी उठाने की घोषणा की है। मनीष राठौर ने बताया कि हम लोग बच्ची के भरण-पोषण से लेकर पढ़ाई तक की जिम्मेदारी उठाएंगे। बच्ची को बोर्डिंग स्कूल भेजा जाएगा। घटना की सूचना के बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी डॉ मृत्युंजय कुमार ने वरीय पदाधिकारी के समक्ष बात रखकर परिवारिक लाभ के तहत मिलनेे वाली सहायता राशि दिलवाने का आश्वासन दिया है। मौके पर संदीप सिंह सोलंकी, रिषु भारती, गौतम राणा, सत्या ठाकरे, सूर्य वंश प्रताप सहित लगभग एक दर्जन बजरंगी कार्यकर्त्ता शामिल हुए।

Input: भास्कर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!